Tuesday, May 17, 2022

शारिक़ कैफ़ी की शायरी


शारिक़ कैफ़ी (सय्यद शारिक़ हुसैन) बरेली (उत्तर प्रदेश) में पहली जून 1961 को पैदा हुए। वहीं बी.एस.सी. और एम.ए. (उर्दू) तक शिक्षा प्राप्त की। उनके पिता कैफ़ी वजदानी (सय्यद रिफ़ाक़त हुसैन) मशहूर शाइ’र थे, इस तरह शाइ’री उन्हें विरासत में हासिल हुई। उनकी ग़ज़लों का पहला मज्मूआ’ ‘आ’म सा रद्द-ए-अ’मल’ 1989 में छपा। इस के बा’द, 2008 में दूसरा ग़ज़ल-संग्रह ‘यहाँ तक रौशनी आती कहाँ थी’ और 2010 में नज़्मों का मज्मूआ ‘अपने तमाशे का टिकट’ प्रकाशित हुआ। इन दिनों बरेली ही में रहते हैं।

शारिक़ कैफ़ी  साहब की बेमिसाल शायरी सुनिए और आज की ग़ज़ल के इस चैनल को SUBSCRIBE भी कर  लीजिए -



शारिक़ कैफ़ी की ग़ज़ल


नहीं मैं हौसला तो कर रहा था

ज़रा तेरे सुकूँ से डर रहा था

अचानक झेंप कर हँसने लगा मैं

बहुत रोने की कोशिश कर रहा था

भँवर में फिर हमें कुछ मश्ग़ले थे

वो बेचारा तो साहिल पर रहा था

लरज़ते काँपते हाथों से बूढ़ा

चिलम में फिर कोई दुख भर रहा था

अचानक लौ उठी और जल गया मैं

बुझी किरनों को यकजा कर रहा था

गिला क्या था अगर सब साथ होते

वो बस तन्हा सफ़र से डर रहा था

ग़लत था रोकना अश्कों को यूँ भी

कि बुनियादों में पानी मर रहा था


4 comments:

star X said...

This is just amazing article, great way to reveal such interesting chapter on your blog. Assignment Help Writers

Anonymous said...

Really informative blog, I never seen such authentic blog before on internet. Great piece of work which is displayed in this blog. Asan Bazaar

Payal Patel said...

Nice Sir .... Very Good Content . Thanks For Share It .

( Facebook पर एक लड़के को लड़की के साथ हुवा प्यार )


( मेरे दिल में वो बेचैनी क्या है )


( Radhe Krishna Ki Love Story )


( Raksha Bandhan Ki Story )

( Bihar ki bhutiya haveli )


( akela pan Story in hindi )


( kya pyar ek baar hota hai Story )

Croza Wear said...

Buy female footwear for sale in Pakistan

CROZA, a new online retailer for women's casual and dressy footwear, debuted in 2019. CROZA has expanded considerably in a short period of time because to the love and support of its clients.

https://crozawear.com/
#buy female footwear for sale in Pakistan