Wednesday, October 22, 2008

मुशायरा








"आज की ग़ज़ल" पर अब तक प्रकाशित शायरों को लेकर आ
रहे हैं हम एक साथ, एक बेहतरीन मुशायरे में.
आप सब सादर आमंत्रित हैं.
सतपाल ख्याल